हमारे बारे में

About Us

स्टील अथॉरिटी ऑफ़ इण्डिया लिमिटेड (सेल) भारत में इस्पात निर्माण में लगी एक प्रमुख कंपनी है। यह पूर्णतः एकीकृत लोहे और इस्पात का सामान तैयार करती है। कंपनी में घरेलू निर्माण, इंजीनियरी, बिजली, रेलवे, मोटरगाड़ी और सुरक्षा उद्योगों तथा निर्यात बाजार में बिक्री के लिए मूल तथा विशेष, दोनों तरह के इस्पात तैयार किए जाते हैं।

सेलयह कारोबार के हिसाब से देश में सार्वजनिक क्षेत्र की सबसे बड़ी 10 कम्पनियों में से एक है। सेल अनेक प्रकार के इस्पात के सामान का उत्पादन और उनकी बिक्री करती है। इनमें हॉट तथा कोल्ड रोल्ड शीटें और कॉयल, जस्ता चढ़ी शीट, वैद्युत शीट, संरचनाएं, रेलवे उत्पाद, प्लेट बार और रॉड, स्टेनलेस स्टील तथा अन्य मिश्र धातु इस्पात शामिल हैं। सेल अपने पांच एकीकृत इस्पात कारखानों और तीन विशेष इस्पात कारखानों में लोहे और इस्पात का उत्पादन करती है। ये कारखाने देश के पूर्वी और केन्द्रीय क्षेत्र में स्थित हैं तथा इनके पास ही कच्चे माल के घरेलू स्रोत उपलब्ध हैं। इन स्रोतों में कंपनी की लौह अयस्क, चूना-पत्थर और डोलोमाइट खानें शामिल हैं। कंपनी को भारत का दूसरा सबसे बड़ा लौह अयस्क उत्पादक होने का श्रेय भी प्राप्त है। इसके पास देश में दूसरा सबसे बड़ा खानों का जाल है। कंपनी के पास अपने लौह अयस्क, चूना-पत्थर और डोलोमाइट खानें हैं जो इस्पात निर्माण के लिए महत्वपूर्ण कच्चे माल हैं। इससे कंपनी को प्रतियोगिता में लाभ मिल रहा है।

सेल के व्यापक लम्बे तथा सपाट इस्पात उत्पादों की घरेलू तथा अंतर्राष्ट्रीय बाजार में भारी मांग है। बिक्री का कार्य सेल का अपना केन्द्रीय विपणन संगठन (सीएमओ) करता है। सीएमओ के 4 क्षेत्रों में 37 शाखा कार्यालयों से बिक्री की जाती है। इसके अलावा 25 विभागीय गोदाम, 42 कंसाइनमेंट एजेन्ट, 27 उपभोक्ता सम्पर्क कार्यालय भी संगठन के बिक्री नेटवर्क के अंश हैं। घरेलू बाजार में बिक्री के केन्द्रीय विपणन संगठन के प्रयासों में ग्रामीण डीलरों का बढ़ता हुआ एक नेटवर्क देश के कोने-कोने में छोटे से छोटे उपभोक्ता की मांग पूरी कर रहा है। इस समय सेल के 2000 से अधिक डीलर हैं। इसका विशाल विपणन तंत्र देश के सभी जिलों में उच्च गुणवत्ता के इस्पात की उपलब्धता सुनिश्चित कर रहा है।

सेल का अंतर्राष्ट्रीय व्यापार डिवीजन आईएसओ 9001: 2000 से प्रमाणित है। इसका कार्यालय नई दिल्ली में है और यह सेल के पांच एकीकृत इस्पात कारखानों से मृदुल इस्पात उत्पादों तथा कच्चे लोहे का निर्यात करता है।

गत चार दशक में सेल ने इस्पात निर्माण में तकनीकी तथा प्रबंधकीय विशेषज्ञता प्राप्त की है। सेल परामर्शदात्री डिवीजन (सेलकॉन), जिसका कार्यालय नई दिल्ली में है, विश्व भर के ग्राहकों को इस विशेषज्ञता का लाभ उपलब्ध करा रहा है।

सेल का रांची में एक सुगठित लोहे और इस्पात के लिए अनुसंधान एवं विकास केन्द्र (आरडीसीआईएस) है। यह केन्द्र इस्पात उद्योग के लिए नई तकनीकों के विकास तथा इस्पात की गुणवत्ता में सुधार में मदद दे रहा है। इसके अलावा सेल का एक अपना इंजीनियरी तथ तकनीकी केन्द्र (सेट), एक प्रबंध प्रशिक्षण संस्थान (एमटीआई) तथा सुरक्षा संगठन भी है। इनके कार्यालय रांची स्थित हैं। कोलकाता स्थित कच्चा माल डिवीजन हमारी निजी खानों का नियंत्रण करता है। सेल के पर्यावरण प्रबंधन डिवीजन और विकास डिवीजन के मुख्यालय कोलकाता में हैं। हमारे लगभग सभी इस्पात कारखाने और प्रमुख यूनिटें आईएसओ प्रमाणित हैं।

प्रमुख यूनिटे 

एकीकृत इस्पात कारखान

विशेष इस्पात कारखाने

सहायक कंपनियां

अधिक जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करें

संयुक्त उद्यम

एनटीपीसी-सेल पावर कंपनी प्रा.लि. (एनएसपीसीएल) 

स्टील अथॉरिटी ऑफ़ इण्डिया लिमिटेड (सेल) और नेशनल थर्मल पावर कारपोरेशन लिमिटेड (एनटीपीसी लि.) के बीच 50:50 का यह संयुक्त उद्यम राउरकेला, दुर्गापुर और भिलाई निजी बिजलीघरों का प्रबन्धन करता है। इसकी संयुक्त क्षमता 314 मेगावाट की है। इसने 500 मेगावाट की अतिरिक्त क्षमता (2×250 मेगावाट यूनिट) का भिलाई में एक बिजलीघर स्थापित किया है। पहली यूनिट से बिजली का उत्पादन अपै्रल, 2009 में शुरू हो गया और दूसरी यूनिट से 2009 तक वाणिज्यिक उत्पादन शुरू होने की आशा है।.

बोकारो पावर सप्लाई कंपनी प्रा.लि. (बीपीएससीएल) 

सेल और दामोदर वैली कारपोरशन के इस 50:50 संयुक्त उद्यम की स्थापना जनवरी, 2002 में हुई थी। यह बोकारो इस्पात कारखाने में 302 मेगावाट विद्युत उत्पादन और 660 टन प्रति घंटे स्टीम उत्पादन सुविधाओं का प्रबंधन कर रहा है। बीपीएससीएल ने बोकारो में 2×250 मेगावाट क्षमता का कोयला आधारित ताप बिजलीघर स्थापित करने का प्रस्ताव किया है। इसके अतिरिक्त बोकारो में 9वे बॉयलर (300 टन/घंटे) और 36 मेगावाट बैक प्रेशर टर्बो जेनरेटर (बीपीटीजी) परियोजना की स्थापना का कार्य किया जा रहा है।

एमजंक्शन सर्विसेस लि. 

सेल और टाटा स्टील के 50:50 आधार पर स्थापित यह संयुक्त उद्यम इस्पात में ई-कॉमर्स गतिविधियों और उसे जुड़े क्षेत्रों को बढ़ावा देता है। कम्पनी द्वारा उपलब्ध कराई जाने वाली नई सुविधाओं में ई-परिसम्पत्ति-बिक्री, आयोजन तथा सम्मेलन, कोयला बिक्री और लॉजिस्टिक्स, प्रकाशन इत्यादि शामिल हैं।.

सेल-बंसल सर्विस सेंटर लि.

सेल ने बीएमडब्ल्यू इंडस्ट्रीज लिमिटेड के साथ 40:60 आधार पर बोकारो में सर्विस सेंटर स्थापित करने के लिए संयुक्त उद्यम का गठन किया है। इसका उद्देश्य इस्पात में उपभोक्ता जरूरतों के अनुरूप सटीक उत्पादों के लिए गुणवत्ता में वृद्धि करना है।.

भिलाई जे पी सीमेन्ट लिमिटेड

सेल ने मैसर्स जयप्रकाश एसोसिएट्स लिमिटेड के साथ स्लैग पर आधारित 22 लाख टन क्षमता का एक सीमेन्ट कारखाना भिलाई में स्थापित करने के लिए एक संयुक्त उद्यम बनाया है। यह कम्पनी मार्च, 2010 से भिलाई में सीमेन्ट का उत्पादन प्रारम्भ कर देगी। सतना में क्लिंकर का उत्पादन 2009 में शुरू हो जाएगा।

बोकारो जे पी सीमेन्ट लिमिटेड

सेल ने मैसर्स जयप्रकाश एसोसिएट्स लिमिटेड के साथ बोकारो में स्लैग पर आधारित 21 लाख टन क्षमता का एक सीमेन्ट कारखाना स्थापित करने के लिए एक संयुक्त उद्यम बनाया है। आशा है कि निर्माण कार्य 2009 में और सीमेन्ट का उत्पादन जुलाई, 2011 तक प्रारम्भ हो जाएगा।

सेल एवं मॉयल फेरो एलॉयज (प्रा.) लिमिटेड

सेल ने मैंगनीज ओर (इण्डिया) लिमिटेड के साथ नन्दिनी/भिलाई में 1 लाख टन क्षमता का फेरो मैंगनीज और सिलिको मैंगनीज कारखाना स्थापित करने के लिए एक संयुक्त उद्यम बनाया हैं।.

एस एंड टी माइनिंग कम्पनी प्रा. लिमिटेड

सेल ने कोयले के ब्लॉक/खानों के अधिकरण तथा विकास के लिए टाटा स्टील के साथ एक संयुक्त उद्यम कम्पनी बनाई है। संयुक्त उद्यम कम्पनी कोकिंग कोयले की सप्लाई प्राप्त करने के लिए नए स्वदेशी अवसरों की तलाश में है।

इन्टरनेशनल कोल वेन्चर्स प्रा. लिमिटेड :

कोकिंग कोयले के क्षेत्र में सार्वजनिक क्षेत्र के इस्पात उद्यमों को आत्मनिर्भर बनाने के उद्देश्य से एक संयुक्त उद्यम बनाया गया है। इस उद्यम में सेल, राष्ट्रीय इस्पात निगम लिमिटेड (आरआईएनएल), कोल इण्डिया लिमिटेड (सीआईएल), एनटीपीसी लिमिटेड और एनएमडीसी लिमिटेड शामिल हैं। कम्पनी ऑस्ट्रेलिया, मोजाम्बिक तथा अन्य चुने हुए देशों में उपलब्ध कोयले के गुणों की जांच कर रही है।

स्वामित्व एवं प्रबंधन

भारत सरकार सेल की 75 प्रतिशत इक्विटी की मालिक है और इसे वोटिंग में नियंत्रण प्राप्त है। परन्तु ‘'महारत्न'’ कंपनी होने के कारण सेल को काफी परिचालन तथा वित्तीय स्वायत्तता मिली हुई है।

Integrated Steel Plants
Plant Location Products
Bhilai Steel Plant Chhattisgarh Rails (13/26m), Long Rails, (65-260m), Blooms, Billets, Slabs, Channels, Joists, Angles, TMT Rebars, Wire Rods, Crane Rails, Plates, Pig iron & Coal Chemicals
Durgapur Steel Plant West Bengal Blooms, Billets, Joists, Narrow Slabs, Channels, Angles, TMT Rebars, Wheels & Axles, Pig iron & Coal Chemicals
Rourkela Steel Plant Odisha Plate Mill Plates, HR Plates, HR Coils, Slabs, CR Sheet/ Coil, Galvanised Sheets (plain & Corrugated), ERW Pipes, Spiral Weld pipes, CRNO, Pig iron & Coal Chemicals
Bokaro Steel Plant Jharkhand Hr Coils, Slabs, HR Sheets. Plates, CR Coils. Sheets, GP Sheets. coils, GC Sheets, Galvanealed Steel, HRPO, Pig iron & Coal Chemicals
IISCO Steel Plant West Bengal Wire rods, Bars & Rebars, Joists, Channels, Angles, Blooms, Billets, Universal & Special section (Z-bar, MS Arch), Pig iron & Coal Chemicals
Special Steel Plants
Steel Plant Location Products
Salem Steel Plant Tamil Nadu Cold Rolled Stainless Steel, Hot Rolled Carbon & Stainless Steel Products, Micro-Alloyed Carbon Steel
Alloy Steels Plant West Bengal Alloy Steel Squares & Rounds, Wear Resistant Plates, Forgings, Carne Wheels, Forged Rolls/ Plaets, Special Quality Slabs & Stainless Setel Slabs (low Ni, 300 & 400 series)
Visvesvaraya Iron & Steel Plant Karnataka High Quality Rolled & Forged Alloy & Special Steel Products
Ferro Alloy Plant
Steel Plant Location Products
Chandrapur Ferro Alloy Plant Maharashtra High/ Medium/ Low carbon Ferro-Manganese, Silico-Manganese

Subsidiary

SAIL Refractory Company Limited

Central Marketing Organisation

 

CMO

SAIL's marketing set-up, the ISO 9001:2015 certified Central Marketing Organisation, is India's largest industrial marketing set-up. CMO is primarily responsible for marketing of steel items, including carbon, alloy and special steel products, as well as stainless steel produced by the steel plants of SAIL.

Backed by a strong ERP system, CMO's network of Branch Sales Offices, Warehouses (Departmental & CA yards) equipped with mechanised handling systems, and Customer Contact Offices function in a synchronised manner to deliver quality SAIL steel to every corner of the country.

Even as SAIL strengthens India by participating in vital projects of national importance, it is working towards empowering the small steel consumer in remote areas of the country by making SAIL steel available through the company’s ever-widening distributor and dealer network. Apna SAIL shops across the country have emerged as the preferred destination for small consumers of quality steel.

To ensure further penetration of quality steel products in the country’s hinterland, SAIL has introduced a Rural Dealership Scheme. Already, steel rebars and roofing materials being provided by SAIL’s rural dealers in various blocks and talukas of the country are adding contemporary dimensions to rural lifestyles. This strategic initiative is also important in view of the fact that rural consumption of steel in the country is projected to grow manifold. SAIL has the country's largest steel retail network today, giving shape to the company’s long-term objective of providing a countrywide framework for ease of procurement and supply of essential steel items for the common Indian.

Extensive customer contact along with product and segment specialisation, close monitoring of order servicing and feedback analysis through a Customer Satisfaction Index are established norms at CMO. The customer-friendly approach of CMO is backed by practical after-sales service. Through the process of Key Account Management, CMO provides single- window service to key customers across the country for every business transaction from enquiry to order booking, order tracking to delivery, and even consultancy and after-sales service.

CMO’s International Trade Division

International Trade Division (ITD) – an ISO 9001:2015 accredited unit of SAIL’s Central Marketing Organisation at New Delhi – undertakes exports of Mild Steel products and Pig Iron produced by SAIL’s five integrated steel plants. Ever ready to meet the exacting demands of CMO’s international customers, ITD maintains a close liaison with customers as well as production units to cater to the customised requirements of its international customers, in terms of quality, quantity and sizes.

ITD has successfully established the brand name SAIL globally by supplying Rails, Structurals, Merchant products, Wire Rods, Re-bars, Plate Mill Plates, Hot Rolled Coils, Hot Rolled Plates / Sheets, Cold Rolled steels, Galvanised steels, Cold Rolled Non-Oriented (CRNO) coils, Stainless Steel sheets/coils, Chequered Plates, Slabs, Billets, Blooms and Pig Iron, besides cut-to-size Hot Rolled and Cold Rolled materials in all continents. Most products are covered by stringent certifications such as CE marking, TUV and 'U' mark required by sophisticated end uses in European markets.

SAIL products have berthed successfully at Japan, China, Korea, Taiwan, Vietnam, Philippines, Singapore, Malaysia, Thailand, Indonesia, Australia, Mexico, Europe (UK, Germany, France, Belgium, Italy, Spain, Netherlands, Portugal), Sudan, Oman, UAE, and many more, as well as in neighbouring countries such as Myanmar, Bangladesh, Sri Lanka and Nepal.

Contact U

Punnya Mukherjee,
GM Communications
Phone: +91-33-22880223 /22880153 / 22886700 / 22886700. Fax: +91-33-22886462
E-mail: corpcomcmo[at]gmail[dot]com 

The company has the distinction of being India’s second largest producer of iron ore and of having the country’s second largest mines network.

Our captive iron ore & flux mines at Jharkhand, Odisha & Madhya Pradesh are under the control of the Raw Materials Division Kolkata, coal mines at Jharkhand & West Bengal are under the control of Collieries Division Kolkata , iron ore & flux mines at Chhattisgarh are under the control of Bhilai Steel Plant (BSP), Bhilai and flux mines at Karnataka are under the control of Visvesvaraya Iron and Steel Plant (VISL), Bhadravati.

Mineral Name of Mine State
Iron Ore Kiriburu Iron Ore Mines Jharkhand
Meghahatuburu Iron Ore Mines Jharkhand
Manoharpur (Chiria) Iron Ore Mines Jharkhand
Gua Iron Ore Mines Jharkhand
Bolani Iron Ore Mines Odisha
Barsua Iron Ore Mines Odisha
Kalta Iron Ore Mines Odisha
Dalli-Rajhara Group of Iron Ore Mines Chhattisgarh
Rowghat Iron Ore Mine (New Project) Chhattisgarh
Flux Nandini Limestone Mines Chhattisgarh
Hirri Dolomite Mines Chhattisgarh
Kuteshawar Limestone Mines Madhya Pradesh
Bhawanathpur Limestone Mines Jharkhand
Tulsidamar Dolomite Mines Jharkhand
Bhadigunda Limestone Mine Karnataka
Kenchapuda Dunite Mine Karnataka
Coal Chasnalla Colliery Jharkhand
Jitpur Colliery Jharkhand
Parbatpur Colliery (New Project) Jharkhand
Tasra Coking Coal Mine (New Project) Jharkhand
Sitanala (New Project) Jharkhand
Ramnagore Colliery West Bengal

State-of-the-art Research and Development Centre for Iron and Steel (RDCIS)

RDCIS

 

Other Deppartments