माननीय इस्पात मंत्री ने सेल के भिलाई इस्पात संयंत्र के 114 बेड वाले कोविड केयर फ़ेसिलिटी को देश को समर्पित किया

Board and Organisation
नई दिल्ली

नई दिल्ली / भिलाई, 10 जून, 2021: माननीय केंद्रीय पेट्रोलियम एवं प्राकृतिक गैस और इस्पात मंत्री श्री धर्मेंद्र प्रधान ने सेल के भिलाई इस्पात संयंत्र के 114 बेड वाले कोविड केयर फ़ेसिलिटी का आज 10 जून, 2021 को ऑनलाइन उद्घाटन किया। माननीय इस्पात राज्य मंत्री श्री फग्गन सिंह कुलस्ते, छत्तीसगढ़ सरकार के स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण, चिकित्सा शिक्षा, पंचायत और ग्रामीण विकास मंत्री श्री टी एस सिंह देव, छत्तीसगढ़ सरकार के परिवहन, आवास, पर्यावरण, वन एवं कानून मंत्री मोहम्मद अकबर, राज्य सभा सांसद, सुश्री सरोज पांडे, दुर्ग के लोकसभा सांसद श्री विजय बघेल और भिलाई के विधायक श्री देवेंद्र यादव, भारत सरकार के इस्पात सचिव श्री पी के त्रिपाठी और सेल अध्यक्ष श्रीमती सोमा मण्डल के साथ इस्पात मंत्रालय और सेल के वरिष्ठ अधिकारीगण भी इस ऑनलाइन कार्यक्रम में मौजूद रहे।

सेल के भिलाई इस्पात संयंत्र के पास स्थापित इस 114 बिस्तरों वाली कोविड केयर यूनिट में संयंत्र से सीधे गैसीय ऑक्सीजन की आपूर्ति के लिए एक डेडीकेटेड गैस पाइपलाइन का निर्माण किया गया है। इस कोविड केयर यूनिट की सुविधा का विस्तार बहुत जल्द ही 500 बिस्तरों तक किया जाएगा। इस यूनिट में डबल ऑक्सीजन बैकअप सप्लाई की सुविधा है। इस सुविधा में गैसीय ऑक्सीजन के मुख्य स्रोत के अलावा, स्टोर किए गए लिक्विड मेडिकल ऑक्सीजन एवं वेपोराइज़र और ऑक्सीजन सिलेंडर मैनिफोल्ड के बैकअप का भी प्रावधान है। यह इकाई माइल्ड से मोडरेट कोविड संक्रमण के मामलों की देखभाल के लिए सक्षम है। यह भिलाई में पहले से मौजूद आईसीयू बेडेड अस्पताल के अलावा एक अतिरिक्त सुविधा है। सेल के भिलाई में आज स्थापित यह सुविधा सेल की चौथी कोविड केयर इकाई है, जो सेल द्वारा कंपनी के विभिन्न संयंत्रों में स्थापित किए जा रहे जंबो कोविड केयर सेंटर के तहत स्थापित किया गया है, जिसके तहत सेल ने कोविड -19 रोगियों के उपचार के लिए पांच संयंत्रों में सीधे गैसीय ऑक्सीजन की आपूर्ति की सुविधा से लैस 2500 अतिरिक्त कोविड बेड स्थापित करने की योजना बनाई थी।

श्री धर्मेंद्र प्रधान ने कार्यक्रम के दौरान कहा कि माननीय प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने "जहां बीमार, वही उपचार" का मंत्र दिया है और गैसीय ऑक्सीजन के स्रोत के पास अस्पतालों की स्थापना करने का निर्देश दिया है, आज का उद्घाटन उनके उसी विज़न की दिशा में एक और कदम है। उन्होंने कोविड महामारी के इस मुश्किल समय के दौरान भिलाई इस्पात संयंत्र की भूमिका की सराहना की। श्री प्रधान ने आगे कहा कि भिलाई के अस्पताल ने कोविड-19 की दूसरी लहर के दौरान रोगियों के इलाज में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है और देश में लिक्विड मेडिकल ऑक्सीजन की आपूर्ति करने के साथ – साथ इसकी बढ़ती मांग को पूरा करने में भी महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है। कोविड -19 की दूसरी लहर के कारण ऑक्सीजन की मांग में अचानक और तेज वृद्धि हुई, जिसे विभिन्न आवश्यक उपायों के जरिये पूरा किया गया, जिसमें इस्पात क्षेत्र ने प्रमुख भूमिका निभाई। इस अवसर पर इस्पात संयंत्र आगे बढ़े और देश की ज़रूरत को पूरा किया। कोविड -19 महामारी से लड़ने के लिए किए जा रहे सभी प्रयासों में सेल का महत्वपूर्ण योगदान है।

श्री प्रधान ने टीकाकरण के बारे में कहा कि माननीय प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने टीकाकरण का रोडमैप तैयार किया है। श्री प्रधान ने आश्वासन दिया कि भारत सरकार और सेल दोनों छत्तीसगढ़ के साथ खड़े हैं और राज्य के लोगों के अधिकतम टीकाकरण के लिए हर संभव प्रयास करेंगे। माननीय मंत्री ने यह भी आश्वासन दिया कि हाल के अनुभव से सीख लेते हुए, भिलाई संयंत्र की COVID केयर यूनिट भविष्य में आने वाली किसी भी तरह की ज़रूरत के लिए तैयार है। जब तक जरूरत महसूस होगी, यह इकाई काम करती रहेगी।

                                                                                                                                                                                                              दिनांक: 10.03.2021

Press Release No
सेल/पीआर/2021-22/11