माननीय इस्पात मंत्री ने सेल के राउरकेला इस्पात संयंत्र में “इस्पात निदान केंद्र” नाम से विशाल कोविड उपचार केंद्र का उद्घाटन किया

Press Release
नई दिल्ली

नई दिल्ली / राउरकेला, 2 जून, 2021: माननीय पेट्रोलियम एवं नेचुरल गैस और इस्पात मंत्री श्री धर्मेंद्र प्रधान ने आज 2 जून, 2021 को सेल के राउरकेला इस्पात संयंत्र में “इस्पात निदान केंद्र” नाम से विशाल कोविड उपचार केंद्र का ऑनलाइन उद्घाटन  किया। इस केंद्र में वर्तमान में 50 वेंटिलेटर की सुविधा वाले बेड सहित 100 ऑक्सीजन सुविधा वाले  बेड हैं। इसकी क्षमता बाद में  100 वेंटिलेटर वाले आईसीयू बेड समेत 500  ऑक्सीजन युक्त बेड तक किया जाएगा।

केंद्रीय इस्पात राज्य मंत्री श्री फग्गन सिंह कुलस्ते, माननीय स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्री, ओडिशा सरकार, श्री जुआल ओराम, माननीय सांसद, सुंदरगढ़, श्री नब किशोर दास, क्षेत्रीय विधायकगण,  इस्पात सचिव , भारत सरकार, श्री पीके त्रिपाठी, सेल अध्यक्ष श्रीमती सोमा मण्डल और इस्पात मंत्रालय और सेल के अन्य वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।

rsp

 इस “इस्पात निदान केंद्र”  को न केवल राउरकेला बल्कि पूरे क्षेत्र के लिए एक महत्वपूर्ण अवसर बताते हुए, माननीय इस्पात मंत्री श्री धर्मेंद्र प्रधान ने कहा कि सेल - आरएसपी ने एक बार फिर ज़रूरत के समय अपनी प्रतिबद्धता दिखाई  है और  COVID-19 महामारी से लड़ने में अपनी क्षमता साबित की है। श्री प्रधान ने कहा कि यह विशाल सुविधा क्षेत्र में कोविड महामारी की दूसरी लहर को रोकने में मदद करेगी और स्वास्थ्य सेवा की स्थिति को भी मजबूती प्रदान करेगी। उन्होंने कहा कि महामारी के बाद भी गैर-कोविड उपचार के लिए भी इस स्थायी सुविधा का उपयोग किया जाएगा। इस महामारी से लड़ने में सरकार के प्रयासों को पूरा करने के लिए सेल के अथक प्रयासों की सराहना करते हुए, श्री प्रधान ने लोगों के लिए बड़े पैमाने पर टीकाकरण की आवश्यकता पर जोर दिया।

rsp2

इस इस्पात निदान केंद्र के सभी बेड्स में ऑक्सीज़न की आपूर्ति सीधे संयंत्र के डेडिकेटेड गैस लाइन के जरिये किया जा रहा है।  केंद्र में गैसीय ऑक्सीजन की आपूर्ति  के इस तरह के प्रावधान से जीवन रक्षक गैस की निर्बाध उपलब्धता सुनिश्चित करने के अलावा, सिलेंडरों को फिर से भरने की आवश्यकता और लॉजिस्टिक मुद्दों से छुटकारा पाने में मदद मिलेगी। यह विशाल सुविधा, जिसे रिकॉर्ड समय के भीतर स्थापित किया गया है, कोविड के खिलाफ लड़ाई के लिए पहले से उपलब्ध बेड और आईसीयू बेड के अतिरिक्त है। इस्पात निदान केंद्र को 500 बिस्तरों के लिए ऑक्सीजन की उपलब्धता की सुविधा के साथ एक स्थायी प्रकार की स्थापना के रूप में विकसित किया जा रहा है, जो इस क्षेत्र के लोगों के इलाज में एक बड़ी भूमिका निभाएगा।

                                                                                                                                                             Date 02.06.2021

Press Release No
SAIL/PR/2021-22/10